Raisins in hindi | Munakka (मुनक्का क्या है?, मुनक्का खाने के फायदे और नुकसान)

0
17
Munakka क्या है?, मुनक्का के 12 फायदे नुकसान और उपयोग, About Munakka in Hindi, What is raisins in hindi, What is the difference between kishmish and munkka?, What are the benefits of eating raisins in hindi, Side Effects of raisins, किशमिश और मुनक्का में फर्क, Difference Between Kismis And Munakka In Hindi,मुनक्का के प्रकार, types of munakka, लाल मुनक्का,काला मुनक्का, मुनक्का के फायदे, Benefits of Munakka in Hindi, आंखों के लिए मुनक्का खाने के फायदे, स्किन पर मुनक्का के लाभ,बालों के लिए गुणकारी है मुनक्का, दांतों के लिए मुनक्का के फायदे,दिल के लिए फायदेमंद है मुनक्का,अनिद्रा की समस्या को दूर करता है मुनक्का,हड्डियों को मजबूत बनाने में मुनक्का खाने के फायदे,यौन दुर्बलता दूर करने में मुनक्का हैं गुणकारी,कब्ज दूर करने में कारगर है मुनक्का,वजन बढ़ाने में मुनक्का के लाभ,एनीमिया को मात देने में कारगर है मुनक्का,बुखार में मुनक्का के गुण,ऊर्जा बढ़ाने में मुनक्का खाने के लाभ मुनक्का खाने का समय और सही तरीका, How To Eat Munakka in Hindi ,मुनक्का की तासीर, किस मात्रा में खाएं मुनक्का, मुनक्का खाने के नुकसान , Side Effects of Munakka,मुनक्का सबसे ज्यादा लाभ कैसे देता है?,मुनक्का की तासीर कैसी होती है?,क्या मुनक्का को बादाम की तरह भिगोकर खाया जा सकता है?,क्या मुनक्का और किशमिश को देख कर फर्क समझा जा सकता है, मुनक्का की तासीर कैसी होती है?, क्या मुनक्का को भिगोकर खाया जा सकता है?, बड़ी किशमिश खाने के फायदें और नुकसान, Difference Between Munakka And Kismis, Munakka Ke Fayde, Munakka Ke Nuksan, Munakka Khane Ke Fayde,Munakka Use,कोरोना में रामबाण है मुनक्का,Benefits of Raisins, kishmish ke fayde, Raisins | Munakka , Sultana, Blackcurrant,Types of Raisins in hindi,Munakka Vs raisins,Munakka benefits in Ayurveda,Munakka wikipedia,Munakka in English, munakka in hindi,Munakka nutrition,मुनक्का के फ़ायदे, Health benefits of Munakka (Raisins) for cold, Kishmish Vs Munakka, किशमिश और मुनक्का में अंतर, Raisins Vs munakka, Dry Munakka ke fayde,क्या किशमिश से ज्यादा फायदेमंद है मुनक्का और कई बीमारियों को जड़ से खत्म कर सकता है , Health Tips, खाली पेट मुनक्का खाने के फायदे और नुकसान, जानिए कैसे सेवन करें मुनक्का, मुनक्का का कैसे सेवन करना चाहिए, दिल को मजबूत बनाने का उपाय, दिल की मजबूती के लिए मुनक्का का सेवन कैसे करना चाहिए, दिल का दर्द दूर ककैसे करें, दिल का दर्द दूर करने का उपाय, दिल के दर्द दूर करने का इलाज, कैसे सेवन करे मुनक्का का जिससे हार्ट अटैक जैसी बीमारी से बचा जा सकता हैं, मुनक्का भिगोकर खाने के फायदे और नुकसान munakka ke fayde aur nuksan, wikiluv,विकिलव,www.wikiluv.com, wikiluv.com

Raisins in Hindi : मुनक्का (munakka) का नाम तो आप सभी ने सुना ही होगा और शायद आप सभी जानते ही होंगे नही जानते हैं तो हम आपको बताएंगे मुनक्का क्या है?, मुनक्का और किशमिश में क्या अंतर है?, मुनक्का खाने के क्या फायदे है?, मुनक्का की तासीर, किस मात्रा में मुनक्के का सेवन करना चाहिए और इसका ज्यादा सेवन करने से क्या नुकसान हो सकते हैं।

मुनक्का क्या है? (What is a Raisin/Munakka?)

Munkka को इंग्लिश में Raisins कहते हैं। मुनक्का किशमिश की तरह ही दिखने वाली एक प्रकार का डॉयफ्रूइट है क्योंकि इसको सुखाकर स्टोर करके 5-6 महीने तक आसानी से सेवन किया जाता हैं। यह भी अंगूर को सूखा कर बनाया जाता हैं और किशमिश की तरह ही मीठा होता हैं। परन्तु किशमिश बिल्कुल भी नहीं है। इसको खाने के बाद जुबान में एक अजीब सी कुछ देर तक मिठास बनी रहती है। कुछ लोग इसे बड़ी किशमिश के नाम से भी जानते हैं। मुनक्के का खाने में जितना स्वादिष्ट ही उससे कही ज्यादा इसके खाने के फायदे हैं।

मुनक्का और किशमिश में अंतर – Difference Between Kishmish And Munakka In Hindi

किशमिश और मुनक्का में यूं तो कुछ ज्यादा अंतर नहीं है। बल्कि इनके ज्यादातर फायदे और नुकसान भी लगभग एक जैसे ही हैं।
मुनक्का बड़े अंगूरों को सुखा कर बनाया जाता है और इसमें दो या तीन बीज पाए जाते हैं। परन्तु किशमिश छोटे अंगूरों को सुखा कर बनाया जाता है और इसमें कोई बीज नहीं होते।
आयुर्वेद और विज्ञान में मुनक्का को किशमिश की तुलना में अधिक फ़ायदेमंद माना गया है। आयुर्वेद में तो यंहा तक कहा गया है कि मुनक्का कई गंभीर बीमारियों को जड़ से खत्म करने का काम करता है। हालांकि विज्ञान की इस पर रिसर्च होनी बाकी है।
मुनक्का खाने में मीठा होता हैं परन्तु किशमिश में हल्की सी खटास होती हैं।
किशमिश का उपयोग अधिकतर पकवान बनाने के लिए इस्तेमाल किया जाता हैं मुनक्का का ज्यादा इस्तेमाल दवाइयों के रूप में किया जाता हैं।

Read Also – लीवर की कमजोरी को दूर करने के उपाय  Liver Ki Beemari Ka ilaaj

मुनक्का के प्रकार (types of Munakka)

मुनक्का के दो प्रकार होते है।
(1)लाल मुनक्का, (2) काला मुनक्का।
लेकिन फायदे दोनों के एक जैसे ही होते है।

लाल मुनक्का- लाल बड़े अंगूरों को तीन सप्ताह तक सुखाया जाता है। उसके बाद लाल मुनक्का बनता है। लाल इसमें दो या तीन बीज भी पाए जाते है। इसका स्वाद मीठा होता है।

काला मुनक्का- काले अंगूरों को सूखाकर काल मुनक्का बनाया जाता हैं। काले अंगूर थोड़ा बड़े होते हैं इसलिए इनका आकर लाल मुनक्के से बड़ा होता हैं। यह भी स्वाद में बेहद ही मीठे होते हैं।

मुनक्का के फायदे – Benefits of Munakka in Hindi

मुनक्का खाने के बहुत सारे फायदे हैं। आप चाहे काला मुनक्का खायें या लाल मुनक्का दोनों ही बेहद गुणकारी है। यह मार्केट में आपको आसानी से मिल जाता है। क्योंकि यह अन्य ड्राईफ्रूट की तुलना में सस्ते दामों में उपलब्ध हैं। तो चलिए जानते मुनक्का के गुणकारी तत्व और मुनक्का खाने से हमें क्या-क्या फायदे हैं।

वजन बढ़ाने में फायदेमंद है मुनक्का

2,3 मुनक्के को दूध के साथ उबाल कर नियमित रूप से सेवन करने से शरीर का वजन बढ़ने लगता है और शरीर की दुर्बलता कम हो जाती हैं।

आंखों के लिए मुनक्का के फायदे

पोषक तत्वों की कमी से आंखों की रोशनी कम होना, मोतियाबिंद होना, आंखों में जलन व दर्द, आंखों से बार-बार आंसू झलकना इत्यादि आँखों के रोगों को दूर करता मुनक्का।मुनक्का के अंदर विटामिन ए, बीटा और कैरोटीन होता है साथ ही इसमें एंटी -ऑक्सीडेंट गुण भी पाए जाते हैं। जो आंखो को फ्री रेडिकल्स से लड़ने में मदद करते हैं। इसलिए आंखों के लिए बेहद फायदेमंद माना जाता है। अगर मुनक्का का सेवन रोजाना नियमित रूप से किया जाए तो इससे आंखों पूरी तरह सुरक्षित और तंदरुस्त रहती हैं।

मुनक्का खाने से स्किन में होने वाले फायदे(लाभ)

मुनक्का अंदर पाए जाने वाले एंटीऑक्सीडेंट फ्री रेडिकल्स जो स्किन की कोशिकाओं को सुरक्षित रखता हैं साथ ही त्वचा का रंग साफ कर, त्वचा की कोशिकाओं में एक तरह का कसाव देता है जिससे स्किन में लंबे समय तक झुर्रियां नजर नही आती जिससे स्किन हमेशा सुंदर और जवान नजर आती हैं। यदि काले मुनक्के की बात करें तो इसमें शरीर से ऐसे अपचय पदार्थों को निकालने की क्षमता होती हैं ऐसे पदार्थ जो त्वचा को अनेक तरह के नुकसान पहुंचाते हैं जैसे- कील-मुंहासे, फोड़े-फुंसी से सुरक्षित रखने में सहायक होते हैं। काले मुनक्के में रेस्वेराट्रोल भी होता हैं जो स्किन को चमकदार बनाए रखता हैं।

बालों के लिए गुणकारी है मुनक्का

बालों के लिए बेहद ही फायदेमंद हैं मुनक्का क्योंकि इसमें आयरन और कैल्शियम के गुण मौजूद हैं। और बाल जल्दी ह आयरन और कैल्शियम की कस्मि से सफेद होने तथा झड़ने लगते है। मुनक्का का नियमित सेवन करने से कैल्शियम की मात्रा पूर्ण हो जाती हैं। जिससे बालो को झड़ना भी रोकता है और बालों को समय से पहले सफेद होने से भी रोकता है। जिससे बाल अधिक समय तक काले घने और मुलायम बने रहते हैं।

दांतों के लिए मुनक्का के फायदे

मुनक्का में विटामिन सी के ओलेनोलिक एसिड भी पाया जाता है जिससे दांतों की परेशानियों जैसे समय से पहले दांतों का गिरना, दांतों में कीड़े लगना, दांतों में झनझनाहट और दर्द से छुटकारा दिलाता है, मुनक्के का नियमित सेवन।

दिल के लिए फायदेमंद है मुनक्का

दिल से जुड़ी समस्याओं के लिए सर्वाधिक फायदेमंद है मुनक्का। दिल से जुड़ी समस्या जैसे हार्ट अटैक, हार्ट पैन (दिल का दर्द) जहां पहले बहुत कम व सिर्फ बुजुर्गों में देखने को मिलती थी। वही आज कम उम्र में अर्थात नौजवानों में इस बीमारी का विकास तेजी से हो रहा है जिससे उन्हें कम उम्र में ही हार्ट अटैक की बजह से अपनी ज़िंदगी गवानी पड़ जाती हैं। यदि आप चाहते हैं अपने दिल को स्वस्थ रखना तो आप मुनक्का का नियमित सेवन अवश्य करें। क्योंकि इसके अंदर पोटेशियम की सर्वाधिक मात्रा पाई जाती है जो हाई ब्लड प्रेशर को कम करने में मदद करता है। इसके अलावा यह रोग प्रतिरक्षा प्रणाली को भी मजबूत बनाए रखता है। इसकी पुष्टि अमेरिका के एक संस्था की ओर से की गई हैं जो कि यह बतलाता हैं कि आयुर्वेद के साथ-साथ विज्ञान भी मुनक्का खाने के फायदे को समझ रहा हैं।

  • दिल की समस्या से छुटकारा पाने के लिए मुनक्के का सेवन 2 सुबह और 2 शाम को सादा(ठंडा) दूध या पानी के साथ खाने से दिल मजबूत होता हैं।
  • यदि आपके दिल मे दर्द है तो 2 मुनक्के में 1चौथाई चम्मच हींग का पाउडर मिलाकर ठंडे पानी के साथ खाने से जल्द राहत मिलती हैं।

यह उपाय अपनाने से आपका दिल हमेशा सुरक्षित और तंदरुस्त रहेगा।

Read Also – दिल से जुड़ी 25 मजेदार बातें | Interesting Facts about Heart in Hindi

अनिद्रा की समस्या को दूर करता है मुनक्का

आज कल युवाओं में मोबाइल और काम और असमय पर खाने की बजह से तनाव बढ़ता ही जा रहा है जिससे उनमे निरंतर अनिद्रा की समस्या बढ़ती ही जा रही हैं। जो कि एक प्रकार की भयंकर बीमारी हैं। अनिद्रा जैसी भयंकर बीमारी को दूर करने के लिए रामबाण इलाज मुनक्का हैं। जिसका सेवन करते ही आप नींद न आने वाली समस्या से राहत मिलेगी। खाना खाने के कुछ देर बार 2,3 मुनक्के खाकर 1 गिलास ठंडा पानी पीएं। आपको कुछ देर बाद नींद आ जाएगी। इस तरह से रोजाना सेवन करने से आपकी यह बीमारी भी दूर हो जाएगी।

हड्डियों व जोड़ों का दर्द करने में मुनक्का हैं गुणकारी

बढ़ती उम्र में महिलाओं और अत्यधिक पुरुषों में खान-पान की बजह से कैल्शियम की कमी हो जाती हैं जिसकी बजह से हड्डियों व जोड़ों में दर्द होना शुरू हो जाता हैं। इस तरह की बीमारी को दूर करने में मुनक्का बेहद ही फायदेमंद साबित है। क्योंकि मुनक्का में केवल प्रचुर मात्रा में कैल्शियम ही नहीं बल्कि बोरॉन नामक तत्व भी पाया जाता है जो कैल्शियम को हड्डियों तक पहुचाने में सहायक होता हैं। जो कि मुनक्का का नियमित सेवन करने से हड्डियों को मजबूत कर जोड़ों और हड्डियों में होने वाले दर्द को खत्म हो जाता हैं।

यौन दुर्बलता दूर करने में मुनक्का हैं गुणकारी

आज-कल की भागदौड़ भरी ज़िंदगी में मनुष्य इतना व्यस्त हो गया हूं जिसकी बजह से वह अपने खान-पान पर ज्यादा ध्यान नही दे पाता हैं और इस तरह से उसका शरीर कमजोर (यौन दुर्बलता) होने लगता हैं। यौन दुर्बलता कुछ लोगों में बचपन की बुरी लत की बजह से भी झेलनी पड़ती हैं और जिसका असर उसके वैवाहिक जीवन और बच्चे पैदा करने में कठिनाई होती या नही होते हैं। रोज़ाना रात्रि में खाना खाने के बाद 8-10 मुनक्कों के बीज निकाल कर दूध में उबाल लें और सोने से पहले गुनगुना दूध पी लें और बाद में मुनक्का भी चबाकर खा लें। इस तरह से मुनक्का का नियमित सेवन करने से यौन दुर्बलता दूर दुर्बलता डोर हो जाती हैं जिससे वैवाहिक जीवन सुखमय हो जाता है।

Read Also – हस्तमैथुन की लत कैसे छोड़े | Hastmaithun Masturbation Se Chutkara 

कब्ज की समस्या को दूर करने में कारगर है मुनक्का

आजकल कब्ज जैसी समस्या बहुत ही बढ़ गई हैं। और यह बीमारी बेहद ही खतरनाक हैं। क्योंकि कब्ज की बजह से ना तो खाना खाने की इच्छा होती है और ना ही सांस ले पाते है, जो कि जानलेवा भी हैं। मुनक्का में फाइबर और कैल्शियम का मुख्य स्रोत हैं जो कब्ज की समस्या को दूर करने में सहायता करता है। जब भी आपको कब्ज महसूस हो 10 मुनक्का गुनगुने पानी के साथ सेवन करने से कुछ ही देर में कब्ज से छुटकारा मिलता हैं।

एनीमिया (खून की कमी) की समस्या को खत्म करने में कारगर है मुनक्का

मुनक्का में विटामिन बी , कॉम्प्लेक्स और कॉपर जैसे तत्व भी मौजूद हैं और यह तत्व एनीमिया यानी खून की कमी को पूरा करते है। यदि आपको भी एनीमिया (खून की कमी) की समस्या है तो आप रोजाना 10 से 15 मुनक्का का सेवन करें। महज एक ही महीने में आपकी यह समस्या कम होने लगेगी और शरीर में खून की कमी पूरी हो जाएगी।

वायरल बुखार को दूर करें मुनक्का

बुखार को दूर करने में भी मुनक्का बहुत ही फायदे मन्द हैं। आयुर्वेद में मुनक्का में किसी भी प्रकार का वायरल बुखार को खत्म करने की क्षमता भी पाई जाती है। बार-बार बुखार आने की समस्या को दूर करने के लिए 1 या 2 मुनक्के का सेवन रोजाना करें।

शरीर की ऊर्जा बढ़ाने और थकावट दूर करें मुनक्का

सारा दिन काम करने के बाद या काम की बजह से इधर-उधर भागदौड़ करने के बाद जब शरीर तक जाता हैं तो इस लगता हैं कि शरीर मे कोई ऊर्जा(एनर्जी) ही नही बची और अक्सर लोग इससे सुस्त पड़ जाता हैं या फिर कोई और काम करने का मन ही नही करता। यदि आप मुनक्का का नियमित सेवन करते हैं तो आपका शरीर कभी नही थकावट महसूस करेगा। क्योंकि इसमें बहुत से पोषक तत्व मौजूद हैं जो हमारे शरीर को ऊर्जावान बनाने में सक्षम रहते हैं। जिससे हमारा शरीर हमेशा चुस्त और दुरुस्त बना रहता हैं साथ ही यह हमें अन्य बीमारियों से बचाने में भी मदद करता है।

मुनक्का खाने का सही तरीका  (How To Eat Munakka in Hindi)

  • यदि आप स्वस्थ हैं या फिर बालों और त्वचा की समस्या को दूर काने के लिए मुनक्का का सेवन करना चाहते हैं तो आप प्रातः काल 1 या दो मुनक्का ठंडे पानी के साथ सेवन करें। इससे आप हमेशा स्वस्थ बने रहेंगे। मुनक्का को आप चाहें तो सीधा भी खा सकते हैं। या पानी में रात भर भिगोकर रखने के बाद भी खा सकते हैं। या आप आप शेक में भी 1-2 मुनक्का को डालकर पी सकते हैं।
  • युवाओं में शारिरिक (यौन) दुर्बलता को दूर करने के लिए 8-10 मुनक्का दूध में उबालकर इसका सेवन करना चाहिए।
  • एनीमिया की बीमारी को दूर करने के लिए रात को 10 मुनक्का पानी में भिगोकर रखें और सुबह खाली पेट इसका सेवन करें।
  • वजन बढ़ाने के लिए रोज़ाना सुबह खाना खाने से पहले और रात में सोने से पहले गुनगुने दूध के साथ 2,3 मुनक्का का नियमित सेवन करना चाहिए।
  • नींद के लिए आप रात को इसका सेवन ठंडे दूध या ठंडे पानी के साथ सेवन करें।
  • दिल को स्वस्थ्य बनाए रखने के लिए 2 मुनक्का सुबह और 2 मुनक्का शाम के समय ठंडे पानी या नॉर्मल रूम टेम्प्रेचर पर रखें हुए दूध के साथ सेवन करना चाहिए।
  • दिल के दर्द को दूर करने के लिए 2 मुनक्का में 1 चौथाई हींग मिलाकर सेवन करना चाहिए इससे दिल का दर्द ठीक हो जाता हैं।
  • कब्ज के समय कब्ज दूर करने के लिए 10-12 मुनक्का गुनगुने पानी के साथ सेवन करना चाहिए।

मुनक्का की तासीर (Munakka ki taseer)

मुनक्का की तासीर गरम होती है इसलिए अधिकतर लोग इसका सेवन सर्दियों के मौसम में ही करते हैं। लेकिन अगर आप इसका सेवन गर्मियों में करना चाहते हैं तो आप करते है तो रातभर भिगोकर भी कर सकते हैं और एक निश्चित मात्रा में ही इसका सेवन करना बेहतर जरूरी है।

मुनक्का खाने के नुकसान  (Side Effects of Munakka)

मुनक्का के ज्यादातर फायदे ही इसे खाने से बहुत ही काम नुकसान देखने को मिलते हैं। वैसे भी कहावत है कि अति से ज्यादा हर चीज खतरनाक होती हैं। एक निश्चित मात्रा और निश्चित समय पर ही इसका सेवन करने से ज्यादा फायदा होता हैं गलत तरीके और अनिश्चित मात्रा और अनिश्चित समय पर खाने से इसके आपको गलत परिणाम (साइड इफेक्ट्स) भी हो सकते है। ज्यादा मुनक्का का सेवन करने से अधिक मोटापे की समस्या भी हो जाती हैं डायबिटीज, फैटी लीवर, और मोटे लोगों को मुनक्का का सेवन नही करना चाहिए। अन्य डॉक्टर की सलाह पर या सही मात्रा में सेवन करें जिससे वह मुनक्का के नुकसान नही फायदों का लुत्फ उठा पाएंगे।

Note- दोस्तो आप इस लेख के अंतर्गत मुनक्का से होने वाले फायदे और नुकसान (Munakka Ke Fayde aur Nuksan) क्या है? के बारे में जान गए होंगे। अगर आपको इस लेख में उपर्युक्त समस्याओं में से किसी भी तरह की समस्या है तो आप इलाज के लिए मुनक्का को निश्चित मात्रा में और सिर्फ दवा की तरह ही ले। यदि हो सकें तो डॉक्टर से ही सलाह लेकर इसका सेवन शुरू करें। 

अगर आपको हमारा यह लेख पसंद आया तो इसे शेयर जरूर करें। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here